शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने 200 रिटायर्ड शिक्षकों एवं 150 आंदोलनकारियों को पगड़ी देकर किया सम्मानित


रांची। झारखंड में रविवार को सूबे के शिक्षा मंत्री सह डुमरी विधायक जगरनाथ महतो ने डुमरी के जामताड़ा पंचायत के करियारी स्थित झारखंड मुक्ति मोर्चा के प्रधान कार्यालय में आयोजित सम्मान समारोह के दौरान डुमरी प्रखंड के रिटायर्ड शिक्षकों एवं झारखंड अलग राज्य के निर्माण में भाग लिए आंदोलनकारियों को पगड़ी देकर सम्मानित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि सम्मानित उन्हीं को किया जाता है जो सम्मान का पात्र होते हैं। शिक्षक जो अपने जीवन भर शिक्षा की ज्योति जलाया जिसके कारण आज तक समाज शिक्षित हुआ वे वास्तव में सम्मान के पात्र हैं। इसीलिए वे सम्मानित किया गए हैं तो वहीं जिनके आंदोलन के बदौलत आज झारखंड अलग राज्य बना है उन आंदोलनकारियों को भी सम्मानित किया गया है। उन्होंने कहा कि अब राज्य सरकार शिक्षक के जगह गुरुजी का पद सृजन करेगी ताकि लोग वास्तव में शिक्षक को गुरु जी कह सके। उन्होंने बताया कि राज्य में 25000 शिक्षकों की भर्ती की प्रक्रिया जारी है जल्द ही शिक्षकों की बहाली होगी।
उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा झारखंड के प्रति सौतेला व्यवहार अपनाया जा रहा है जिसके कारण मिड डे मील से लेकर के बिजली की समस्या सामने आ रही है कुल मिलाकर केंद्र की सरकार झारखंड सरकार को बदनाम करना चाहती है इसी कारण झारखंड के प्रति उपेक्षा का व्यवहार करती है । उन्होंने कहा कि आने वाले समय में भाजपा के सामने कोई मुद्दा नहीं होगा क्योंकि 1932 के खतियान आधारित स्थानीय नीति से लेकर सभी मुद्दों पर हेमंत सोरेन की सरकार काम शुरू कर दिया है और जल्द ही 1932 खतियान आधारित स्थानीय नीति की घोषणा राज्य सरकार करेगी और भाजपा सहित अन्य विपक्षी दलों के मुंह में ताला लगाने का काम करेगी।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.