शेयर बाजार से बड़ी खबर, जानें पूरा अपडेट


घरेलू बाजार आज प्री-ओपन सेशन (Pre-Open Session) में ही पूरी तरह से बिखर गया. प्री-ओपन सेशन में सेंसेक्स करीब 1,300 अंक की भारी गिरावट के साथ 59,270 अंक के पास कारोबार कर रहा था. एनएसई निफ्टी करीब 300 अंक के नुकसान के साथ 17,770 अंक के पास कारोबार कर रहा था. वहीं, सिंगापुर में एसजीएक्स निफ्टी (SGX Nifty) का फ्यूचर कांट्रैक्ट सुबह के नौ बजे 279.5 अंक की भारी गिरावट के साथ 17,812.5 अंक पर कारोबार कर रहा था. इससे संकेत मिल रहा था कि घरेलू बाजार आज बढ़िया नुकसान में रह सकते हैं, जो कारोबार खुलते ही दिख भी रहा है. सुबह के 09:40 बजे सेंसेक्स करीब 750 अंक के नुकसान के साथ 59,840 अंक से नीचे कारोबार कर रहा था था. वहीं निफ्टी लगभग 200 अंक से ज्यादा गिर कर 17,870 अंक से भी नीचे कारोबार कर रहा था.

इससे पहले पिछले कुछ दिनों से बाजार में रिकवरी देखने को मिल रही थी. मंगलवार का कारोबार समाप्त होने के बाद सेंसेक्स 455.95 अंक (0.76 फीसदी) मजबूत होकर 60,571.08 अंक पर बंद हुआ था. निफ्टी 133.70 अंक (0.75 फीसदी) की बढ़त के साथ 18,070.05 अंक पर रहा था. सोमवार को सेंसेक्स 60 हजार अंक के स्तर को पार करने में सफल रहा था. कारोबार समाप्त होने के बाद सेंसेक्स 321.99 अंक (0.54 फीसदी) मजबूत होकर 60,115.13 अंक पर बंद हुआ था. इसी तरह निफ्टी 103 अंक (0.58 फीसदी) की बढ़त के साथ 17,936.35 अंक पर बंद हुआ था.

अमेरिका में महंगाई के आंकड़े सामने आाने के बाद मंगलवार को वॉल स्ट्रीट में कोहराम मच गया था. डाउ जोन्स इंडस्ट्रियल एवरेज (Dow Jones Indutrial Average) 1,276.37 अंक यानी 3.94 फीसदी गिरकर 31,104.97 अंक पर बंद हुआ था. टेक फोकस्ड इंडेक्स नास्डैक कंपोजिट (Nasdaq Composite) का हाल तो और ही बुरा हुआ था. यह इंडेक्स 632.84 अंक यानी 5.16 फीसदी गिरकर 11,633.57 अंक पर आ गया था. एसएंडपी500 (S&P 500) सूचकांक में 177.72 अंक यानी 4.32 फीसदी की गिरावट देखने को मिली और यह 3,932.69 अंक पर बंद हुआ था. इसके बाद आज बुधवार को एशियाई बाजार भी गिरावट का सामना कर रहे हैं. जापान का निक्की (Nikkei), हांगसांग का हैंगसेंग (Hangseng) और चीन का शंघाई कंपोजिट (Shanghai Composite) तीनों 2-2 फीसदी से ज्यादा गिरे हुए हैं.

सरकारी आंकड़ों के अनुसार, अमेरिका में खुदरा महंगाई अगस्त (US Inflation Data) महीने में 8.3 फीसदी पर रही. अमेरिकी बाजार में फूड आइटम्स और एनर्जी प्राइसेज में काफी उथल-पुथल देखी जा रही है. इसी कारण खुदरा महंगाई (US Retail Inflation) में तेजी देखी जा रही है. जानकारों को महंगाई दर 8.1 फीसदी रहने की उम्मीद थी. उम्मीद से बदतर महंगाई के आंकड़ों के कारण इस बात की आशंका गहरा गई है कि फेडरल रिजर्व अगले सप्ताह होने वाली बैठक में एक बार फिर से ब्याज दर को 0.75 फीसदी बढ़ा सकता है. इसी कारण महंगाई का आंकड़ा आते ही अमेरिकी शेयर बाजार में चौतरफा बिकवाली देखने को मिली.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.