युवकों ने लाठी-सरिए से मारा, मटकी से पानी पीने पर दलित युवक को पीटा, दुकान पर सामान लेने गया था


दुकान के बाहर रखे बर्तन से पानी पीने को लेकर एक दलित युवक की लोगों ने पिटाई कर दी। युवक को लाठी-डंडों से पीटा गया। युवक की पत्नी ने बीच बचाव कर उसे छुड़ाया। मामला मंगलवार रात जैसलमेर जिले के मोहनगढ़ थाना क्षेत्र का है।

मोहनगढ़ थानाध्यक्ष भवानी सिंह ने बताया कि चुतरा राम पुत्र रेशमा राम मेघवाल निवासी डिग्गा ने मामला दर्ज किया है। रिपोर्ट के मुताबिक मंगलवार की रात आठ बजे डिग्गा अपनी पत्नी के साथ बाइक से खेत से गांव आ रहा था। गांव में ही एक दुकान पर सामान खरीदने रुके। उसने सामान लेने के बाद दुकान के बाहर रखे बर्तन से पानी पिया। इस पर दुकान पर खड़े 20 साल के जितेंद्र सिंह, 22 के चतुर सिंह, 21 साल के तनेराव सिंह, 21 साल के देवी सिंह सहित एक नाबालिग ने जातिसूचक शब्द बोलते हुए हमला कर दिया।

जब वह भागने लगा तो सभी ने उसे पकड़ लिया और पीटने लगे। डंडे से मारने से कान के पीछे गहरी चोट आई है। उनकी पत्नी और पूनम सिंह ने बीच-बचाव कर उन्हें बचाया। हमले में उनके सिर, पीठ और पसलियों में गंभीर चोटें आई हैं।

उसे एंबुलेंस से मोहनगढ़ के एक अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसका इलाज शुरू किया। प्राथमिक उपचार के बाद युवक को जैसलमेर रेफर कर दिया गया। पुलिस ने चार युवकों और एक नाबालिग के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है। एससी-एसटी सेल जैसलमेर के डीएसपी अशोक चंद मामले की जांच कर रहे हैं।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.