बेटे और बहू के तलाक पर अब जाकर तोड़ी चुप्पी, नागार्जुन का आया ये बयान


नई दिल्ली: साउथ के सुपरस्टार नागार्जुन आजकल ‘ब्रह्मास्त्र’ की सक्सेस को एन्जॉय कर रहे हैं. हाल ही में मीडिया इंट्रैक्शन के दौरान नागार्जुन ने बेटे नागा चैतन्य और बहू सामंथा रूथ प्रभु के तलाक पर खुलकर बात की. तलाक को दुर्भाग्य बताते हुए नागार्जुन ने कहा कि मेरा बेटा इस समय खुश है, मैं बस आगे इतना ही जानता हूं. जानकारी के लिए बता दें कि सामंथा रूछ प्रभु और नागा चैतन्य का तलाक 2021 अक्टूबर में हुआ था. दोनों ने सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए फैन्स को जानकारी दी थी कि दोनों ने अपने रास्ते अलग कर लिए थे.
हाल ही में नागार्जुन से पूछा गया कि जब बेटा और बहू का तलाक हुआ तो उन्हें कैसा महसूस हुआ था? नागार्जुन का कहना रहा कि उनकी प्रायॉरिटी उनका बेटा है. पिंकविला संग बातचीत में नागार्जुन ने कहा कि नागा इस समय खुश है और मैं उसे इसी तरह देखना चाहता हूं. मेरे लिए केवल यही एक चीज मायने भी रखती है. उसके जीवन में यह सब हुआ, उसे एक्सपीरियंस मिला. यह चीज दोनों के लिए ही दुर्भाग्यपूर्ण रही. अब क्योंकि रिलेशनशिप खत्म हो चुका है तो अब हम इसे यहीं खत्म कर दें. बार-बार इसे उछालने की कोशिश में न रहें. यह एक चीज हो चुकी है. हमारे जीवन में यह बीत चुका है. उम्मीद करता हूं कि यह एक बात सभी लोगों के जीवन से चली जाएगी. आगे इसके बारे में बात नहीं होगी.

इससे पहले नागा चैतन्य ने समांथा संग अपने तलाक के सवाल पर रिएक्ट करते हुए कहा था कि मैं बोर हो चुका हूं इस एक सवाल को सुनते-सुनते. एक पब्लिकेशन हाउस संग बातचीत में नागा चैतन्य ने कहा था कि मैंने और सामंथा ने जो कुछ कहना था, कह दिया. इसके आगे हर कोई अब बस इस बात को भरने के लिए कुछ भी कहे जा रहा है. इस बात में अब कुछ नहीं बचा है. मैं तो इस एक सवाल का जवाब देते-देते बोर हो चुका हूं.
सामंथा के लिए नागा चैतन्य काफी खुश हैं कि वह करियर में काफी सक्सेस पा रही हैं. वहीं, सामंथा ने एक चैट शो में बताया था कि अगर उन्हें और उनके एक्स हस्बैंड को एक कमरे में बंद कर दिया जाए तो व्यक्ति को नुकीली चीजें छिपानी पड़ेंगी. चीजें दोनों के बीच ठीक नहीं. हालांकि, आगे दोनों के भविष्य में किस तरह के संबंध होंगे, यह खुद सामंथा रूथ प्रभु भी नहीं जानती हैं. बता दें कि सामंथा रूथ और नागा चैतन्य ने साल 2017 में शादी रचाई थी. चौथी एनिवर्सरी से पहले ही दोनों ने अपने रास्ते अलग करने का निर्णय ले लिया था.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.