26 जिलों में भारी वर्षा के साथ ठनका का अलर्ट जारी


पटना। बिहार में सितंबर महीने में हर दिन राज्य के अधिकांश हिस्से में बारिश हो रही है। मेघ गर्जन और वज्रपात से कई लोगों की मौत भी हुई है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक अभी 1 सप्ताह तक बिहार में मानसून सक्रिय रहेगा और बारिश होगी। कुछ जिलों में तेज तो कुछ जिलों में मध्यम और औसत दर्जे की बारिश की संभावना जताई गई है। मौसम विभाग के ताजा पूर्वानुमान में कहा गया है कि बिहार के 26 जिलों में बारिश के साथ वज्रपात की भी संभावना है। इसे देखते हुए येलो अलर्ट जारी किया गया है। इन जिलों के नागरिकों को वज्रपात से बचने की सलाह दी गई है। खासकर, किसानों को खेतों में जाने से पहले मौसम पर ध्यान देने के लिए कहा गया है।
प्रदेश के जिन जिलों में वज्रपात को लेकर अलर्ट जारी किया गया है उनमें राजधानी पटना के साथ बक्सर, मधेपुरा, लखीसराय, बेगूसराय, कटिहार, सुपौल, पूर्णिया, खगड़िया, अररिया, किशनगंज, नालंदा, जहानाबाद, गया, शेखपुरा, अरवल, भोजपुर, जमुई रोहतास, कैमूर, मुंगेर और बांका जिले शामिल हैं। इन जिलों के लोगों को वज्रपात और मेघगर्जन से बचने की सलाह मौसम विज्ञान विभाग ने दी है। वही राज्य में मानसून के सक्रिय रहने से किसानों को काफी लाभ हो रहा है। जून-जुलाई महीने में कम बारिश होने के कारण खेती पर जो असर पड़ा था उसकी थोड़ी-बहुत भरपाई होने की संभावना है। इस बारिश से किसानों को तिलहन की फसल उगाने में सहायता मिलेगी।

न्यूज़क्रेडिट: amritvichar



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.