डी एम ने किया सीता कुंड का औचक निरीक्षण


गया। पितृपक्ष मेला महासंगम 2022 में काफी अधिक संख्या में तीर्थयात्री मोक्ष की भूमि में पहुंचकर तर्पण कर रहे हैं, जो अपने आप में ये ऐतिहासिक वर्ष है। पितृपक्ष के अंतिम दिनों में पिंडदानियों को कोई समस्या ना हो इसे लेकर जिला पदाधिकारी डॉ त्यागराजन एसएम मेला क्षेत्र का औचक निरीक्षण किया।निरीक्षण के दौरान जिला पदाधिकारी ने सीता कुंड पहुंचकर विभिन्न संगठनों एवं विभागों द्वारा लगाए गए स्टॉल का निरीक्षण करते हुए नाव पर बैठकर पूरे सीताकुंड तथा देवघाट, गजाधर घाट, गयाजी डैम इत्यादि घाटों का लगभग 30 मिनट तक नदी में घूमते हुए बारीकी से निरीक्षण किया। निरीक्षण के क्रम में उन्होंने कहा कि पिंडदानियों की संख्या धीरे-धीरे कम रही है परंतु 25 सितंबर के दिन काफी अधिक संख्या में तीर्थ यात्रियों एवं लोकल गया ज़िला के मगध क्षेत्र के लोगों तर्पण करने पहुंचेंगे।
इसे ध्यान में रखते हुए जिन स्थानों पर अतिरिक्त बैरिकेडिंग की आवश्यकता है उस स्थान पर 24 घंटे के अंदर ही बेरीकेटिंग करवा दें। सीताकुंड निरीक्षण के दौरान सफाई व्यवस्था में थोड़ी कमी देख उन्होंने सफाई पदाधिकारी को सख्त हिदायत दिया कि सीता कुंड के पूरे क्षेत्र में शेष बचे पितृपक्ष के तिथियों में बेहतर तरीके से साफ सफाई रखें। सीताकुंड नदी के किनारे गंदगी को तुरंत साफ करावे।उन्होंने उपस्थित पुलिस पदाधिकारी को निर्देश दिया कि 25 सितंबर के दिन यातायात व्यवस्था सुचारू रहे इसे लेकर प्लान तैयार कर ले।निरीक्षण के दौरान उप विकास आयुक्त, वरीय उप समाहर्ता, प्रभारी पदाधिकारी जिला आपदा, एसडीआरएफ के पदाधिकारी सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.