सड़क मार्ग से गुजरने वाली नदी पर पुलिया का निर्माण नही होने से ग्रामीण परेशान


मोरखा सिंदरली मार्ग से गुजरने वाली नदी पर पुलिया नहीं बनने से दोनों गांवों के ग्रामीणों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. फिलहाल नदी में पानी बह रहा है। ऐसे में लोगों को पानी के अंदर से सफर करना पड़ रहा है। दोनों गांवों के ग्रामीणों ने कई बार नदी पर पुलिया निर्माण की मांग की, लेकिन किसी ने इसे गंभीरता से नहीं लिया.

मौरखा को सिंदरली गांव से जोड़ने वाली मुख्य सड़क नदी इसी रास्ते से होकर गुजरती है। बरसात के दिनों में दोनों गांवों का संपर्क टूट जाता है। क्योंकि नदी पर कोई पुल नहीं है। सादरी बांध के ओवरफ्लो होने के बाद कई महीनों तक नदी में पानी बहता रहता है. ऐसे में दोनों गांवों के लोगों को अपना वाहन लेकर नदी के पानी से होकर गुजरना पड़ रहा है. कई बार ग्रामीणों के वाहन बीच नदी में फंस जाते हैं।

जिसे वे एक दूसरे की मदद से निकालते हैं। इतना ही नहीं, यह मुंडारा से खेतलाजी और आशापुरा माताजी मंदिर का मुख्य मार्ग भी है। जिससे इस मार्ग से बड़ी संख्या में श्रद्धालु आते हैं। जिन्हें नदी में बहते पानी से होकर गुजरना पड़ता है।

यह समस्या साल में दो से तीन महीने तक रहती है। वहीं नदी पर पुलिया निर्माण को लेकर दोनों गांवों के ग्रामीणों ने जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों से कई बार गुहार लगाई.

नदी पर पुलिया नहीं होने से मौरखा व सिंदरली गांव के लोगों को वर्षों से परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. प्रशासन को समस्या को ध्यान में रखते हुए नदी पर पुल का निर्माण कराना चाहिए।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.