1 साल तक नहीं मिलेगी जमानत, जहरीली शराब कांड के मुख्य आरोपी ऋषि पर लगी रासुका


28 मई 2021 को अलीगढ़ के गांव करसुइ में जहरीली शराब पीने से लोगों की मौत का सिलसिला शुरू हुआ था. एक के बाद एक 106 मौतें हुईं. मामले का मुख्य आरोपित ऋषि शर्मा तब से जेल में है. अब 1 साल तक और उसे जमानत मिलने की संभावना नहीं है, क्योंकि ऋषि शर्मा पर रासुका लगा दी गई है.
शराब माफिया पर लगी रासुका
अलीगढ़ के जहरीली शराब कांड का मुख्य आरोपित ऋषि शर्मा मैनपुरी की जेल में बंद है. प्रशासन ने शराब माफिया ऋषि शर्मा पर एक और बड़ी कार्रवाई करते हुए रासुका लगा दी है. अलीगढ़ के एसएसपी कलानिधि नैथानी की रिपोर्ट पर डीएम इंद्र विक्रम सिंह ने ऋषि शर्मा पर रासुका की कार्यवाही करने पर हस्ताक्षर कर दिए.
एक साल और नहीं होगी जमानत
शराब माफिया ऋषि शर्मा मैनपुरी की जेल में बंद है, और काफी समय से जमानत के लिए प्रयास कर रहा है. अब एनएसए यानी रासुका की कार्रवाई होने के बाद उसे एक साल तक जमानत नहीं मिलेगी.
ये था अलीगढ़ का जहरीली शराब कांड
28 मई 2021 को अलीगढ़ के गांव करसुइ में शराब पीने से लोगों की मौत का सिलसिला शुरू हुआ. गांव के ठेके से लोगों ने शराब खरीदी और पीने के बाद हालत बिगड़ी. खैर के गांव रायट, अंडला, हैबतपुर, फतेह नगरिया, नंदपुर पला में भी लोगों की शराब पीने से मौत हुई. पहले दिन 22 से अधिक मौतें हुई. 10 दिन तक लगातार मौत का सिलसिला जारी रहा. सरकारी रिकॉर्ड के अनुसार 106 मृतकों के पोस्टमार्टम हुए.
शराब कांड में अब तक यह हुई कार्रवाई
अलीगढ़ जहरीली शराब कांड में अब तक पुलिस ने 33 मुकदमे खैर, लोधा, पिसावा, गभाना, जवां, महुआ खेड़ा, क्वार्सी थाने में दर्ज किए हैं. मामले में 87 आरोपियों को जेल भेजा जा चुका है. जिसमें से ऋषि शर्मा की पत्नी की मौत हो चुकी है. आरोपितों की 100 करोड़ से अधिक की संपत्ति जब्त की जा चुकी है.
न्यूज़ क्रेडिट: prabhatkhabar



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.