एकता कपूर और शोभा कपूर को गिरफ्तार करने का आदेश


बेगूसराय। अपना सर्वस्व समर्पण कर भारत माता की सुरक्षा में लगे सेना की वर्दी और उसके परिवार का चरित्र हनन करने को लेकर बेगूसराय न्यायालय ने प्रोड्यूसर एकता कपूर एवं उसकी मां शोभा कपूर के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। बेगूसराय न्यायालय के प्रथम श्रेणी न्यायिक दंडाधिकारी विकास कुमार की अदालत ने मामले की सुनवाई करते हुए गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। इस मामले को लेकर न्यायालय में परिवाद पत्र संख्या 524-सी/2020 दर्ज करने वाले राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर के गांव सिमरिया निवासी पूर्व सैनिक शंभू कुमार ने कहा है कि भारतीय सेना परिवार की चिंता किए बगैर सरहद पर विपरीत परिस्थिति में भी डटे रहते हैं लेकिन एकता कपूर और शोभा कपूर ने अल्ट बालाजी के बैनर तले ओटीटी प्लेटफॉर्म पर बने वेब सीरीज ट्रिपल एक्स के सीजन-2 में सेना के प्रति अपमानजनक टिप्पणी किया है। सैनिक के पत्नी के चरित्र को अपमानित किया है, सेना के प्रति यह दुर्भावना राष्ट्रद्रोह है। मामले को लेकर न्यायालय द्वारा पूर्व में नोटिस भेजा गया था, जिसे एकता कपूर के कार्यालय ने रिसीव किया। उसके बाद अब न्यायालय द्वारा गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया है।
हालांकि इस मामले में एकता कपूर एवं शोभा कपूर की ओर से न्यायालय को बताया गया है कि मामले की जानकारी मिलते ही उक्त सीन हटा दिया है, लेकिन न्यायालय ने सेना को अपमानित करने वाले इस मामले को गंभीरता से लिया है। मामले के अधिवक्ता ऋषिकेश पाठक ने बताया कि ट्रिपल एक्स वेब सीरीज में सैनिकों की पत्नी को सैनिक की वर्दी में दूसरे लोगों के साथ शारीरिक संबंध बनाते हुए दिखाया गया। एक सीन दिखाया गया कि जब भारतीय सैनिक ड्यूटी पर तैनात रहते हैं, तब उनकी पत्नी अपने दोस्तों को बुलाकर सेना की वर्दी में उसके साथ शारीरिक संबंध बनाती है। सेना के लिए ऐसा सीन शर्मनाक है, भारत के सैनिक खुद को खतरे में रखकर, परिवार से हजारों-हजार किलोमीटर दूर अपने घर-परिवार की चिंता छोड़ कर मां भारती की सेवा में दिन रात एक कर जुटे हुए रहते हैं। उन्हें सम्मान की नजरों से देखा जाना चाहिए, लेकिन एकता कपूर और शोभा कपूर ने इसके उल्टे अपमानजनक दृश्य प्रस्तुत किया है। सेना की वर्दी और उनके परिवार को आज मनोरंजन के लिए सबसे बहुचर्चित ओटीटी प्लेटफॉर्म पर बेइज्जत किया गया है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *