भावुक बेटों ने लगाई गंगा में छलांग मां के अंतिम संस्कार में


उत्तर प्रदेश के उन्नाव में बांगरमऊ कोतवाली क्षेत्र में स्थित नानामऊ घाट पर उस वक्त अफरा-तफरी मच गई, जब अपनी मां की मौत के बाद अंतिम संस्कार करने पहुंचे एक शख्स ने पानी में छलांग लगा दी. इस दौरान बड़े भाई मिंटू को डूबता देख बचाने के लिए छोटे भाई कमलेश ने भी गंगा में छलांग लगाई. दोनों को डूबता देख कमलेश के दो बेटे भी कूद गए. गोताखोरों ने कमलेश व उसके भाई को सुरक्षित निकाल लिया, लेकिन कमलेश के बेटों का पता नहीं लगा है.

बेहटा मुजावर थाना क्षेत्र के रूरी सादिकपुर गांव की रहने वाली राजा पासी की पत्नी का देहांत हो गया था. इसके बाद अंतिम संस्कार के लिए परिवार वाले नानामऊ घाट पर गए. इसी दौरान मृतका के बड़े बेटे मिंटू ने गंगा में छलांग लगा दी. भाई को डूबता देख छोटे भाई कमलेश ने भी छलांग लगा दी. गहराई होने की वजह से दोनों डूब गए.

दो सगे भाई आकाश और राकेश, जिनका अभी तक नहीं लगा सुराग.

बताया जा रहा है कि चाचा और पिता को डूबता देख वहां खड़े कमलेश के बेटे 22 वर्षीय आकाश और 20 वर्षीय राकेश ने भी छलांग लगा दी. गंगा में बहाव तेज होने से दोनों का पता नहीं चल सका है.

सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और गोताखोरों की मदद से मिंटू और कमलेश को सुरक्षित बाहर निकाल लिया. वहीं कमलेश के दोनों बेटों की तलाश की जा रही है. कई घंटे तक तलाश के बाद भी दोनों का सुराग नहीं लग सका है. फिलहाल पुलिस और गोताखोर तलाश में जुटे हुए हैं.

एएसपी बोले- दो सगे भाइयों का पता नहीं चला, तलाश जारी

एएसपी शशि शेखर सिंह ने कहा कि बांगरमऊ थाना में एक व्यक्ति की मां की मृत्यु हो गई थी. घर के सभी लोग अंतिम संस्कार के लिए गए हुए थे. नानामऊ घाट पर दाह संस्कार के बाद मृतका के छोटे बेटे ने गंगा नदी में छलांग लगा दी. उसे बचाने के लिए बड़ा भाई कमलेश भी पानी में उतर गया.

इन दोनों को बचाने के लिए कमलेश के दो बेटे आकाश और राकेश भी कूद गए. गोताखोरों ने कमलेश व उसके भाई को तो बचा लिया है, लेकिन कमलेश के बेटों का पता नहीं चल सका है. उनकी तलाश की जा रही है.

न्यूज़ क्रेडिट: aajtak



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *